शोहरतगढ़ कस्बे में हुआ दंगा नियंत्रण ड्रिल, थानाध्यक्ष जेपी दूबे ने दी पुलिसकर्मियों को दंगा नियंत्रण के दौरान की जाने वाली कार्रवाई के बारे में जानकारी

शोहरतगढ़ कस्बे में हुआ दंगा नियंत्रण ड्रिल, थानाध्यक्ष जेपी दूबे ने दी पुलिसकर्मियों को दंगा नियंत्रण के दौरान की जाने वाली कार्रवाई के बारे में जानकारी

पर्दाफ़ाश न्यूज़टीम
शोहरतगढ़, सिद्धार्थनगर

शोहरतगढ़ कस्बे में थानाध्यक्ष जेपी दूबे की अगुवाई में दंगा नियंत्रण के लिए रिहर्सल किया गया। पुलिसकर्मियों को दंगा नियंत्रण के दौरान की जाने वाली कार्रवाई के बारे में जानकारी दी गई। थानाध्यक्ष जेपी दूबे ने बताया कि दंगा नियंत्रण के लिए शोहरतगढ़ पुलिस तैयार है। पहले प्रतिबोधन, जरूरत पड़ने पर पुलिस टीयर गैस, लाठीचार्ज, वाटर कैनन व फायरिंग आदि का इस्तेमाल करती है। साथ ही यह भी कहा कि पुलिस को लाठी चलाते समय किसी व्यक्ति को गंभीर चोट न आए इसका ध्यान रखना अनिवार्य है। दंगाइयों को काबू करने के लिए पहले आंसू गैस फिर लाठीचार्ज का सहारा लिया जाता है। फायरिंग सबसे अंतिम विकल्प है।

इस दौरान प्रमुख रूप से उपनिरीक्षक रविकान्त मणि त्रिपाठी, उपनिरीक्षक रामाप्रसाद यादव, उपनिरीक्षक मनोज कुमार श्रीवास्तव, उपनिरीक्षक हरिओम कुशवाहा, उपनिरीक्षक बाबू लाल दूबे आदि पुलिस कर्मी मौजूद रहे।